Movies Buddy

बालो का झड़ना कैसे रोके

बालों का झड़ना आज के time में एक आम समस्या बन चुकी है  इसका इलाज करना भी बहुत जरूरी है। आज कल छोटे हो या बड़े सभी के बाल झड़ रहें हैं।क्योंकि आजकल के लोगों की जीवनशैली और खान-पान इतनी बुरी हो चुकी है कि इसका सीधा असर हमारे बालों पर पड़ने लगा है। कई बार लोग किसी के कहने में आकर अपना तेल बदल लेते हैं या फीर chemical serums वगैरा का use करने लगे हैं जिससे हमारे बाल खराब होने लगे हैं।

 बाल  झड़ने से  रोकने के लिए कुछ उपाय करने में जितनी देर होगी उतनी ही समस्या ओर बड़ती जायेगी। बालों के गिरने के समस्या को लोग पहले नजरअंदाज ही करते हैं, और फीर  सही time पर इसका treatment नहीं हो पाता है। जितनी जल्दी हो सके इसका इलाज कर लेना चाहिए।

बालों का झड़ना क्या होता है – 

आजकल बालों का गिरना एक आम बात हो गई है। कोई ना कोई इस परेशानी से जूझ रहा है। कई लोगों के बाल समय से पहले इतने झड़ जाते है कि उन्हें हेयर ट्रांसप्लांट (Hair transplant) कराना पड़ता है। बालों का झड़ना जब थोड़ा-थोड़ा करके बढ़ने लग जाता है तो गंजेपन की नौबत आ जाती है। सामान्यत 50 से 100 बाल लगभग  तो हर दिन टूटते-झड़ते ही है यदि इससे ज्यादा बाल झड़ते है तो ये गंजापन का विषय बन जाता है। गंजेपन की नोबत आने से पहले बालों का झड़ना रोकने के लिए घरेलू नुस्ख़ों का आजमाने से सही परिणाम मिल सकता है।

बाल झड़ने के कारण  – 

आजके समय में बाल झड़ने के आम कारणों में से मूल है असंतुलित आहार , गलत जीवनशैली, हेरीडियेटरी, दवाओं के दुष्प्रभाव आदि। आइए ऐसे और कारणों के बारे में आगे जानते हैं-

लंबी बीमारी या किसी बड़ी शल्य क्रिया या सर्जरी (surgery) , गंभीर संक्रमण या इंफेक्शन (infection)  और शारीरिक तनाव (stress)  से दो या तीन महीने के बाद बालों का झड़ना एक सामान्य प्रक्रिया होती है।

हार्मोन स्तर में आकस्मिक बदलाव के बाद भी ये हो सकता है, विशेषकर स्त्रियों में delivery के बाद यह होता है।

दवाइयों के दुष्प्रभाव के कारण भी होता है। कोई बीमारी के लक्षण के रूप में भी बालों का झड़ना हो सकता है जैसे कि थायरॉयड, सेक्स हार्मोन में असंतुलन या गंभीर पोषाहार समस्या विशेषकर प्रोटीन, जिंक, बायोटीन की कमी। यह कमी खान-पान में परहेज करने वाले और महिलाओं में मासिक धर्म में बहुत ज्यादा रक्तस्राव होने पर होता है। सिर की skin में फफूंद से संक्रमण हो जाता है तो बीच-बीच में बाल झड़ने लगते है।  आयुर्वेद के according बाल झड़ने के और भी कई सारे कारण होते हैं। आयुर्वेद के according वात के साथ मिला पित्त रोमकूपों में जाकर बालों को गिरा देता है और इसके अनन्तर रक्त के साथ मिला हुआ कफ (cough)  रोमकूपों को बन्द कर देता है।  जिससे की उस स्थान में दूसरे बाल पैदा नहीं हो पाते है। इसके साथ बाल गिरने का एक कारण नहीं बल्कि कई कारण है,जैसे- नमक ज्यादा खाना से गंजापन आ जाता है। और तनाव, संक्रमण, हार्मोन असंतुलन, अपर्याप्त पोषण, विटामिन (vitamin) और पोषक पदार्थो की कमी, दवाओं के दुष्प्रभाव, लापरवाही बरतना या बालें की सही देखभाल न करना, गलत प्रकार के शैम्पू का use करना आदि है।

इसके अलावा आधुनिक विज्ञान के according बाल झड़ने के ये भी कारण हो सकते हैं-

बालों का झड़ना रोकने के घरेलू उपाय – 

प्याज का रस (Onion juice) –  अपने सिर में लहसुन (Garlic)  का रस, प्याज (Onion)  का रस या अदरक (Jinger) का रस लगाकर मसाज कर ले। इस process को सोने से पहले करे तथा सुबह अच्छी तरह से बालों को wash कर लें। प्याज के रस में सल्फर (sulphur) की मात्रा होती है, ये टिशु (tissue)  में मौजूद कोलाजेन के उत्पादन को बढ़ावा देते है। प्याज बालों का झड़ना रोकने  में काफी फायदेमंद माना जाता है।

तेल (Oil) – किसी भी तरह का प्राकृतिक तैल जैसे, ऑलिव ऑयल, नारियल का तेल या कनोला oil लें। इसको गुनगुना करके इस तैल से अपने स्कैल्प में रोज मसाज करें। मसाज के बाद सिर पर एक शॉवर कैप पहन लें और इसे करीब एक घंटे बाद wash कर लें। बालों झड़ने से रोकने के लिए तेल का इलाज बहुत ही अच्छा है।

ग्रीन टी (Green tea) –  ग्रीन टी को एक cup पानी में मिलाकर अपने सिर में लगा लें और इसे करीब एक घंटे तक ऐसे ही छोड़ दें। ग्रीन टी में एन्टीऑक्सिडेंट (Antioxidant)  होता है जो बाल झड़ने से रोकने में help करता हैं।  बालों को झड़ने से रोकने में ग्रीन टी का इलाज बहुत असरदार होता है।

नमक और काली मिर्च (Salt and Black pepper) –   पिसा हुआ नमक व काली मिर्च 1-1 चम्मच नारियल के तेल में पांच चम्मच मिलाकर उस स्थान पर लगाए जहां से बाल जा  रहें हैं।

नीम व बेरी के पत्तों (Neem and Berry Leaf Juice) –  नीम और बेर के पत्तों को पानी में खूब उबाल ले। इस पानी को ठण्ड़ा करके इससे सिर के बाल धो लें और बाद में नीम के तेल का use करें, इससे बालों का झ़ड़ना बन्द हो जाता है। 

नींबू और नारियल तेल (Lemon & Coconut Oil) – बालों के झ़ड़ने  पर सिर में नींबू के रस में दो गुना नारियल का तेल मिलाकर अंगुलियों की अग्रिम पोरों से धीरे-धीरे मालिश करने से बाल झ़ड़ने बन्द हो जाते है। ये घरेलू नुस्ख़ा बालों को झड़ने से बचाता है।

अनार के पत्ते (Pomegranate leaf) –  अनार के पत्ते भी बालों का झड़ना रोकने में मदद करते  हैं। अनार के पत्तों का रस 1 लीटर तथा पत्तों की लुगदी 100 ग्राम लेकर आधा लीटर सरसों के तेल में मिलाकर पकायें, जब तेल ही बचे तो उसे उतार कर छान लेना है। इसका use गंजेपन के लिए करने पर बाल उगने लगते हैं। अगर बाल झ़ड़ रहें है तो उनका झ़ड़ना रुक जाता है। 

परवल (Pointed Gourd Leaves) – बाल झड़ने से रोकने के लिए क़ड़वे परवल के पत्तों को पीसकर रस निकाल ले और उसको सिर पर लगाये इसका 2-3 माह तक use करने से बालों का झ़ड़ना धीरे-धीरे बन्द होता जाता है और गंजापन भी दूर हो जाता है।

Conclusion – 

आज के इस post में हमने आपको Hair fall यानी कि बालो का गिरना कैसे रोके के बारे मे बतलाया है। हमने जो सब उपर बतलाया है वो जरूर करे । सही खान पान  बहुत ज़रूरी है हमारे शारीर के लिए।  Fresh fruits भी जरूर ले साथ ही अपनी diet का भी ध्यान रखे। कोशिश करे की chemical वाली चीजों से बचे और जो हमारे लिए अच्छा है वही करे। TV पर आए बालो के तेल के advertisement पर ज्यादा भरोसा न करें।इसे ज्यादा से ज्यादा अपने relatives और friends के साथ share करे ताकी वे भी अपने बालो का ध्यान रख सकें।

Exit mobile version